• Homepage
  • >
  • खेल
  • >
  • अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट: पाकिस्तान 10 विकेट से हराकर भारत फाइनल में

अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट: पाकिस्तान 10 विकेट से हराकर भारत फाइनल में

अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट: पाकिस्तान 10 विकेट से हराकर भारत फाइनल में

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम दक्षिण अफ्रीका में खेले जा रहे अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंच गई है. भारत ने पाकिस्तान को सेमीफ़ाइनल में 10 विकेट से करारी मात दी. चार बार की चैंपियन भारतीय टीम सातवीं बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है. इस टूर्नामेंट की अहमियत का अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों में से एक विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने 2008 में इसे जीता जिसके बाद भारतीय क्रिकेट में कोहली के नाम की चर्चा शुरु हुई.

पोटेचफ्रस्ट्रूम में पहले सेमीफाइनल में भारत के सामने जीत के लिए 173 रन का लक्ष्य था जो उसने 35.2 ओवर में बिना किसी नुक़सान के हासिल कर लिया. भारत की जीत के हीरो रहे सलामी बल्लेबाज़ यशस्वी जायसवाल जिन्होंने छक्का लगाकर अपना शतक भी पूरा किया और भारत की जीत पर भी मुहर लगा दी. वे 113 गेंदों पर आठ चौके और चार छक्कों की मदद से 105 रन बनाकर नाबाद रहे.

उनके जोड़ीदार दिव्यांश सक्सेना भी 99 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 59 रन बनाकर नाबाद रहे. अभी तक इस अंडर-19 विश्व कप में भारतीय टीम एक बार भी ऑलआउट नही हुई है. अब फाइनल में भारत का सामना गुरूवार को होने वाले दूसरे सेमीफाइल के विजेता से नौ फरवरी को रविवार को होगा.

दूसरा सेमीफाइनल गुरुवार को न्यूज़ीलैंड और बांग्लादेश के बीच खेला जाएगा. इससे पहले भारत साल 2000, साल 2008, साल 2012 और साल 2018 में चैंपियन रहा है और साल 2006 और साल 2016 में उपविजेता रहा है. यशस्वी जयसवाल से पहले भारत के शुभमन गिल ने 2018 में हुए अंडर-19 विश्व कप के सेमीफ़ाइनल में पाकिस्तान के ही ख़िलाफ़ केवल 94 गेंदों पर नाबाद 102 रन की पारी खेली थी.

इस मैच में भी पृथ्वी शॉ की कप्तानी में भारत ने पाकिस्तान को 203 रन के विशाल अंतर से हराया था. तब भारत के नौ विकेट पर 272 रन के जवाब में पूरी पाकिस्तानी टीम महज़ 69 रन बना सकी थी. पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का निर्णय लिया, लेकिन यह पाकिस्तानी बल्लेबाज़ों को रास नही आया.

भारतीय गेंदबाज़ों की सधी और धारदार गेंदबाज़ी के सामने पूरी पाकिस्तानी टीम पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल सकी और पूरी टीम 43.1 ओवर में 172 रन पर सिमट गई. पाकिस्तान के कप्तान विकेटकीपर बल्लेबाज़ रोहेल नज़ीर ने 62, सलामी बल्लेबाज़ हैदर अली ने 56 और मोहम्मद हारिस ने 21 रन बनाए.

भारत के सुशांत मिश्रा ने 28 रन देकर तीन, रवि बिश्नोई ने 46 रन देकर दो और कार्तिक त्यागी ने भी 32 रन देकर दो विकेट हासिल किए. अंडर-19 विश्व कप में भारत और पाकिस्तान के बीच यह 10वाँ मुक़ाबला था. वैसे दोनों टीमों ने समान रूप से पांच-पांच मैच जीते, लेकिन भारत ने पाकिस्तान को लगातार चौथी बार मात दी है.

भारत के फाइनल तक पहुंचने में गेंदबाज़ रवि बिश्नोई, कार्तिक त्यागी और सलामी बल्लेबाज़ यशस्वी जायसवाल की तिकड़ी की अहम भूमिका रही. भारत के लेगब्रेक गुगली गेंदबाज़ रवि बिश्नोई ने पांच मैचों में 13 विकेट हासिल किए. उन्होंने न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ 30 रन देकर चार विकेट हासिल किए.

इसके अलावा उन्होंने जापान के ख़िलाफ़ भी केवल पांच रन देकर चार विकेट हासिल किए. उनके अलावा मध्यम तेज़ गति के गेंदबाज़ कार्तिक त्यागी ने भी पांच मैच खेलकर 10 विकेट अपने नाम किए. उनका सबसे शानदार प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ रहा. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 24 रन देकर चार विकेट झटके. वहीं सलामी बल्लेबाज़ यशस्वी जायसवाल ने पांच मैच खेलकर 312 रन बनाए. पाकिस्तान के ख़िलाफ़ उन्होंने नाबाद 105 रन बनाए.

इससे पहले उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 62, न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ नाबाद 57, जापान के ख़िलाफ़ नाबाद 29 और श्रीलंका के ख़िलाफ़ 59 रन बनाए. अगर यह कहा जाए कि यशस्वी जायसवाल विरोधी टीम के गेंदबाज़ों के लिए दीवार साबित हुए तो ग़लत नहीं होगा. सेमीफाइनल से पहले वह चार मैच खेलकर 103.50 के औसत से तीन अर्धशतक सहित 207 रन बना चुके थे.

  • facebook
  • googleplus
  • twitter
  • linkedin